Breaking News
Home » Bihar » Aurangabad » औरंगाबाद : इस पंचायत के विद्यालय में नहीं है शौचालय , खुले में शौच जाती है छात्र छात्राए सहित शिक्षिका ,ओडीएफ घोषित कर वाह वाही लुट रहे अधिकारी

औरंगाबाद : इस पंचायत के विद्यालय में नहीं है शौचालय , खुले में शौच जाती है छात्र छात्राए सहित शिक्षिका ,ओडीएफ घोषित कर वाह वाही लुट रहे अधिकारी

धीरज कुमार

मगध एक्सप्रेस [ 14 अप्रैल 18 ];- ओबरा प्रखंड मुख्यालय के उब पंचायत के कझवा गांव में राजकीय मध्य विद्यालय कझवा में शौचालय नहीं रहने से बच्चो को खुले में शौच जाना पड़ता है । ग्रामीणों कि माने तो  इस विद्यालय में  भवन तो बन गई है ,लेकिन इस विद्यालय में अभी तक शौचालय नहीं बन पाया है, जिससे बच्चों एवं बच्चियों को पढ़ाई के दौरान  खुले में शौच के लिए जाना पड़ता है ,बताते चले कि इस विद्यालय में दो शिक्षीका एवं दो शिक्षक कार्यरत है ,शिक्षिका से जब बातचीत किया गया तो शिक्षका ने भी बताया कि बच्चों के पढ़ाई के दौरान अगर टॉयलेट जाने की जरूरत पड़ती है ।तो हम लोग भी खुले में ही शौच के लिए जाते हैं । आए दिन देखा जाए तो सरकार को स्वच्छता अभियान के तहत गांव में शौचालय बनवाने को लेकर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जागरुक किया जा रहा है । करोडो रुपया इस अभियान में खर्च किया जा रहा है लेकिन सवाल उठता है कि क्या विद्यालय परिसर में शौचालय की जरूरत नहीं है ।वही ग्रामीणों ने बताया कि 2012 में यह नया भवन का निर्माण हुआ था और इसे विद्यालय में आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नंबर आठ चलता है, जिसके बच्चे भी पढ़ने इसी स्कूल परिसर में आते है  । लेकिन शौचालय नहीं होने के कारण हम लोगों के बच्चे एवं शौच के लिए बाहर जाती है। यह कितना शर्म की बात है ।लोगों ने बताया कि इस असुविधा के लिए हम लोगों ने प्रखंड मुख्यालय पर जाकर कई बार पदाधिकारियों को ध्यान आकर्षित कराया , लेकिन कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा है। वही देखे तो प्रखंड मुख्यालय में बड़े-बड़े बैनर-पोस्टर स्वच्छता अभियान की प्रचार करते देखा जाता है ,और प्रखंड मुख्यालय के पदाधिकारियों द्वारा गांव में जाकर शौचालय बनाने की बात कही जाती है ।लेकिन क्या पढ़ने वाले बच्चों की विद्यालय में शौचालय की जरूरत नहीं है ।

वही जब एक शिक्षिका से बात की गई तो उन्होंने नाम ना बताते हुए, बताया कि हम लोगों को भी बहुत शर्म लगती है ,जब क्रिया करने में बाहर जाना पड़ता है ।फजीहत तो तब होती है ,कि जब आसपास के ग्रामीण लोग विघालय के पास रहते हैं तब हम लोगों को शौचालय जाने में शर्म लगती है । लेकिन पदाधिकारियों द्वारा यहां पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है, वही कझवा विद्यालय के प्रधानाध्यापिका उर्मिला देवी ने बताया कि हमने अपने विद्यालय में शौचालय बनवाने को लेकर कई बार आवेदन प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को दी है ,लेकिन अभी तक कोई पहल नहीं हुआ है ।

क्या कहते हैं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी

उन्होंने कहा कि हम ओबरा प्रखंड में नए आए हुए हैं हमें कझवा विद्यालय में शौचालय ना होने की बात संज्ञान में नहीं है । हमें मीडिया के माध्यम से वहां पर शौचालय ना होने की बात सामने आई है ।मैं प्राथमिकता देते हुए अपने विभाग को एक आवेदन जल्द से जल्दी लिखूंगा  और यथाशीघ्र कछवा विद्यालय में शौचालय बनाने का प्रयास करूंगा।

ओबरा के ऊब पंचायत में आता है कझवा गांव

ओबरा प्रखंड के उब पंचायत में यह कक्षवां विद्यालय आता है ,जहां जिले के पूर्व डीएम द्वारा इस पंचायत को ओडीएफ घोषित किया गया था .लेकिन विद्यालय में शौचालय नहीं होना और बच्चो के साथ साथ पुरे विद्यालय प्रबंधन को खुले में शौच जाना ओडीएफ कि घोषणा पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है .जिस समय इस पंचायत को ओडीएफ घोषित किया गया था उस वक्त प्रखंड से लेकर पंचायत तक और जिला मुख्यालय तक के अधिकारी लगातार यहाँ दौरा कर रहे थे और पंचायत के हर घर में शौचालय बनवाने को लेकर महाभियान चलाकर शौचालय बनाए जा रहे थे लेकिन उस वक्त विद्यालय को लेकर कोई पहल नहीं कि गई जिसके कारण आज भी विद्यालय के छात्र एवं छात्राए सहित पुरुष और महिला शिक्षिका तक खुले में शौच के लिए जाने को मजबूर है .

ग्रामीणों ने बताया कि विद्यालय में जल्द से जल्द शौचालय नहीं बनाया गया ,तो हमलोगो के द्वारा प्रखंड मुख्यालय पर आक्रोशित धरना प्रदर्शन किया जाएगा । इस मौके पर उपस्थित रहें महाराणा प्रताप सिंह, राहुल कुमार सिह ,सोनू कुमार सिह , गुणवंत कुमार सिह , रामनाथ सिह , अमरनाथ इत्यादि लोगों ने जल्द से जल्द कझवा मध्य विद्यालय में शौचालय बनवाने की मांग कि है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

औरंगाबाद :( त्राहिमाम )पानी के एक-एक बूंद के लिए तरस रहे ग्रामीण,नल जल योजना की असफलता के विरोध में जमकर काटा बवाल

Share this on WhatsAppसंजीव कुमार मगध एक्सप्रेस ( 22 मई 18):/-भीषण गर्मी की मार से ...

औरंगाबाद :Exclusive,(ये हौसलों की उड़ान है ) विकट परिस्थितियों के बाद भी गोलगप्पे बेचकर करती है पढ़ाई ,आईएस बनना चाहती है शिल्पी

Share this on WhatsAppधीरज पाण्डेय मगध एक्सप्रेस (21मई 18):- हौसलों की उड़ान कभी नाकामयाब नही ...

औरंगाबाद:श्री सीमेंट फैक्ट्री से होनेवाली समस्याओ को लेकर जाप ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

Share this on WhatsAppमगध एक्सप्रेस (21 मई 18):-आज जन अधिकार छात्र परिषद के शिष्टमंडल ने ...

रोहतास:84 किलो गंजा के साथ  महिला पुरुष सहित चार गिरफ्तार

Share this on WhatsAppराहुल कुमार मगध एक्सप्रेस (21मई 18):- क्वालिस गाड़ी में चौरासी किलो गंजा के ...